सेंट पीट्सबर्गः बुधवार देर रात खेले गए फुटबॉल विश्व कप के दूसरे सेमीफाइनल में क्रोएशिया ने इंग्लैंड को 2-1 से हरा दिया. यह फाइनल मुकाबला बहुत ही रोमांचक रहा. फुलटाइम तक दोनों टीमें 1-1 से बराबरी पर थी और मैच एक्स्ट्रा टाइम तक खिंच गया. एक्स्ट्रा टाइम के 19वें मिनट में मारियो मैंडजुकिच ने गोल कर क्रोएशिया को जीत दिला दी और क्रोएशिया को पहली बार विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचा दिया.

इससे पहले इंग्लैंड ने मैच के 5वें मिनट में ही बढ़त बना ली, जब कीरन ट्रिपियर ने फ्री किक पर शानदार गोल दागा. क्रोएशिया के रक्षकों ने इंग्लैंड के एक फॉरवर्ड को डी के बाहर फाउल करते हुए गिरा दिया, जिसका खामियाजा उन्हें गोल के रूप में भुगतना पड़ा. फाउल पर मिले फ्री किक पर ट्रिपियर ने शानदार सीधा किक लिया और क्रोएशिया का गोलकीपर बस देखता रह गया. यह एक देखने लायक गोल था.

1-0 से पिछड़ने के बाद क्रोएशिया की आक्रमण पंक्ति ने कुछ जबरदस्त हमले किए लेकिन पहले हॉफ में उन्हें कोई सफलता नहीं मिली. इस बीच इंग्लैंड के कप्तान और इस विश्व कप में अब तक के सर्वश्रेष्ठ स्कोरर हैरी केन को गोल करने के कुछ आसान मौके मिले लेकिन वह इसका फायदा नहीं उठा पाए. मैच के 68वें मिनट में क्रोएशिया के इवान पेरिसिक ने दूर से मिले पास पर शानदार गोल कर स्कोर को 1-1 की बराबरी पर ला दिया.

72वें मिनट में क्रोएशिया को एक और आसान मौका मिला लेकिन गेंद गोल-पोस्ट पर लगकर वापस चली आई. इसके बाद मैच के नियत समय और इंजरी टाइम में कोई गोल नहीं हो सका और मैच एक्स्ट्रा टाइम में प्रवेश कर लिया. 99वें मिनट में कॉर्नर किक पर इंग्लैंड के स्टोन्स के हेडर को क्रोएशिया के डिफेंडर ने शानदार तरीके से रोका. मैच के 109वें मिनट में क्रोएशिया के मारियो मैंडजुकिच ने मिले आसान मौके पर गोल कर क्रोएशिया को फाइनल में पहुंचा दिया.

FIFA World Cup 2018 Video: हार से गुस्साए अर्जेंटीना के समर्थकों ने क्रोएशिया के फैन को पीटा

FIFA World Cup 2018: क्रोएशिया से मिली मात सिर्फ अर्जेंटीना की हार नहीं बल्कि लियोनेल मेसी के सपने का टूटना भी है