सेंट्स पीट्सबर्गः रूस के सेंट्स पीट्सबर्ग में खेला गया फीफा वर्ल्ड कप का पहला सेमीफाइनल मुकाबला फ्रांस और बेल्जियम के बीच खेला गया. इस मुकाबले में दोनों टीमों के बीच एक कड़े मुकाबले की उम्मीद थी और ऐसा हुआ भी. हालांकि स्कोरलाइन 1-0 को देखने से पता चलता है कि मैच काफी धीमा रहा और मैच में सिर्फ एकमात्र गोल हुआ. लेकिन ऐसा नहीं था. दोनों टीमों ने गोल करने के लिए एक दूसरे से काफी जद्दोजहद किया.

हालांकि शुरूआत में बेल्जियम की तरफ से हमले अधिक हुए. मैच के 19वें और 21वें मिनट में एडेन हजार्ड ने गोल करने के बेहतरीन प्रयास किए लेकिन फ्रांस के डिफेंडर और गोलची ने इन हमलों को नाकाम कर दिया. इसके बाद फ्रांस की तरफ से भी हमले हुए लेकिन कोई भी प्रयास गोल में तब्दील नहीं हो सका. बेल्जियम के डिफेंडर्स ने फ्रांस के स्टार मबाप्पे और फ्रांस के डिफेंडर्स ने बेल्जियम के स्टार लुकाकु को बांधे रखा.

मैच में सबसे अधिक अंतर फ्रांस के पॉल पोग्बा ने पैदा किया. वह फ्रांस के लिए डिफेंस, मिडफिल्ड और अटैक तीनों जगह नजर आए. बहरहाल पहला हॉफ गोलरहित बराबरी पर रहा. दोनों टीमों को गोल करने के कुछ अच्छे और कुछ कठिन मौके मिले लेकिन कोई भी टीम गोल करने में कामयाब नहीं हो सकी.

मैच के दूसरे हॉफ में फ्रांस को एक कॉर्नर मिला जिस पर सैमुअल उमतिति ने हेडर से शानदार गोल कर फ्रांस को 1-0 की बढ़त दिला दी. यह बढ़त मैच के अंत तक बनी रही. हालांकि मैच के आखिरी 20 मिनट में फ्रांस ने नकारात्मक खेल दिखाया. उन्होंने समय गवाने की रणनीति अपनाई. इस कारण फ्रांस के म्बाप्पे को पीला कार्ड भी देखने को मिला. आखिरी सीटी बजने तक फ्रांस ने अपनी बढ़त को बरकरार रखा और 12 साल बाद फाइनल में जगह बनाई. इससे पहले 2006 में फ्रांस ने जिनडेन जिडान की अगुवाई में फाइनल में जगह बनाई थी, जहां उसे इटली से हार का सामना करना पड़ा था.

FIFA World Cup 2018 24th day Goals: देखिए फीफा विश्व कप 2018 के 24वें दिन के सभी गोल

FIFA World Cup 2018: गोल्डन बूट की दौड़ में आगे हैं हैरी केन, लुकाकु और मबापे दे रहें कड़ी टक्कर