बागपत: उत्रर प्रदेश के बागपत जिले में कांवड़ यात्रा में शामिल हुए एक मुस्लिम युवक जुमे नमाज के वक्त कथित तौर पर मस्जिद से निकाले जाने का मामला सामने आया है. बागपत पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया है. बाबू खान नामक शख्स का आरोप है कि वो कावड़ यात्रा में शामिल होने की वाजह से उसको मस्जिद में नमाज अदा करने से रोका गया और निकाल दिया गया. वहीं दूसरे पक्ष का ने खान के इस आरोप को गलता बताते हुए उस पर शराब पीने का आरोप लगाया है.

खान ने पुलिस को बताया है कि वो पिछले दिनों हरिद्वार से कांवड़ लाया था और मंदिरों में जलाभिषेक भी किया था. इसके बाद शुक्रवार को वो जुमे की नमाज अदा करने के लिए गांव की मस्जिद में गया तो कुछ लोगों ने कथित तौर पर उसे अपमानित करते हुए वहां से बाहर निकाल दिया. यहां तक की वो लोग हाथापाई और गाली-गलौज पर भी उतर आए. जिसके बाद पुलिस ने इस मामले तीन लोगों को हिरासत में लिया है.

मामला सामने आने के बाद हिंदू जागरण मंच के जिला अध्यक्ष दीपक बनमोली ने कहा है कि मंच बाबू खान के साथ है खड़ा है. यदि उसे कोई परेशान करता है तो हम इसे बर्दाश्त नहीं करेंगे. शुरुआती जांच में यह भी पता चला है कि दोनों पक्षों के बीच पहले से ही किसी मुद्दे को लेकर विवाद चल रहा है. हलका इंस्पेक्टर देवेंद्र बिष्ठ ने कहा है बाबू खान की तहरीर पर शिकायत दर्ज किया गया है.

तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है जबकि एक व्यक्ति की खोजबीन जारी है. उन्होंने कहा है कि पुलिस क्षेत्र के नागरिकों के साथ बातचीत के माध्यम से भी इस मसले का हल निकालने का प्रयास कर रही है. फिलहाल गांव में पूरी तरह से शांति बनी हुई है. बता दें कि सावन के इस महीने में पूरे भारत से लोग कावड़ यात्रा पर निकलते हैं और भगवान शिव का जलाभिषेक करते हैं.

गोल्डन बाबा को ड्राइवर ने लगाई चपत, लाखों की जूलरी और कैश लेकर फुर्र

ट्रैफिक पुलिस वालों ने रोका तो स्कूटी सवार लड़की ने दीं नॉनस्टॉप गालियां, Video वायरल